ads banner
ads banner
ads banner
अंतरराष्ट्रीयIndia Open 2023: इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे Kunlavut Vitidsarn

India Open 2023: इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे Kunlavut Vitidsarn

India Open 2023: इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे Kunlavut Vitidsarn

India Open 2023: पूर्व विश्व जूनियर चैंपियन कुनलवत वितिदसर्न (Kunlavut Vitidsarn) ने सिंगापुर के तीसरी वरीयता प्राप्त और पिछले संस्करण के फाइनलिस्ट लोह कीन यू (Loh Kean Yew) को हरा दिया है। जबकि छठी वरीयता प्राप्त इंडोनेशियाई एंथोनी गिनटिंग को इंडिया ओपन 2023 के पुरुष एकल क्वार्टर फाइनल में चीन के ली शी फेंग से गहरा संघर्ष करना पड़ा।

विटिडसन ने लोह को 21-12, 21-17 से हराने के लिए एक धीमी और स्थिर गेम योजना अपनाई, जबकि गिनटिंग ने ली को 21-11, 17-21, 21-18 से हराकर निर्णायक मुकाबले में 6-10 की कमी से वापसी की। शीर्ष वरीय डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन भी सेमीफाइनल में पहुंचे। क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी रैसमस गेम्के को गिरने के बाद व्हीलचेयर पर कोर्ट से बाहर ले जाना पड़ा।

ये भी पढ़ें- Badminton : बैडमिंटन दुनिया का सबसे तेज रैकेट खेल है

India Open 2023: प्रतिष्ठित बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर सुपर 750 इवेंट का आयोजन भारतीय बैडमिंटन संघ द्वारा किया जाता है। सेमीफाइनल शनिवार को जबकि फाइनल रविवार को खेला जाएगा। महिला एकल में शीर्ष वरीय जापान की अकाने यामागुची ने स्पेन की कैरोलिना मारिन को 21-17, 14-21, 21-9 से हराया और अब उनका सामना थाईलैंड की सुपानिडा केटेथोंग से होगा जिन्हें तीसरी वरीय चेन यू फेई ने बीमारी का हवाला देकर वाकओवर हासिल किया। अन्य महिला एकल सेमीफाइनल में दक्षिण कोरिया की दूसरी वरीयता प्राप्त एन से यंग का सामना चीन की हे बिंगजियाओ से होगा।

जबकि अंतिम-आठ राउंड में काफी दिलचस्प मैचअप थे, पूर्व जूनियर और सीनियर विश्व चैंपियन के बीच की लड़ाई शायद उनकी अलग शैली को देखते हुए सबसे अधिक मांग थी। लोह ने 2021 में विश्व चैंपियनशिप का खिताब जीता।

लोह ने मजबूत शुरुआत की और 11-7 की बढ़त बना ली, लेकिन विटिडसन ने सीधे 12 अंक हासिल कर पहला गेम जीत लिया। दूसरा गेम काफी करीबी था, लेकिन थाई खिलाड़ी ने दबाव में रहते हुए 17-17 से लगातार चार अंक हासिल किए और गिंटिंग के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबला तय किया।

यामागुची और मारिन के बीच महिला एकल का क्वार्टर फाइनल ऐसा लग रहा था जैसे दोनों खिलाड़ी निर्णायक मुकाबले में 5-5 से बराबरी पर हैं। लेकिन जापानियों ने बार उठाया और एक घंटे चार मिनट में जीत के लिए दौड़ लगाई।

Deepak Singh
Deepak Singhhttps://onlinebadminton.net/
यहां आपको बैडमिंटन के बारे में नवीनतम समाचार और कहानियां, साथ ही इसके कुछ इतिहास मिलेंगे। यहां रहने का आनंद!

बैडमिंटन न्यूज़ हिंदी

नवीनतम बैडमिंटन स्टोरीज